05 May, 2016

श्रीमती यशोदा और श्री कुलदीप के जूनून की हलचल

i Blogger टीम द्वारा अप्रैल 2016 माह के Best Blog of the Month के लिए हलचल विद 5 लिंक्स ब्लॉग को चयन गया है। उक्त ब्लॉग का संचालन कुलदीप ठाकुर कर रहे है। जिसकी शुरूवात श्रीमती यशोदा द्वारा की गई है। यहां पर प्रतिदिन विभिन्न ब्लॉगों पर लिखी और पढ़ी जा रही पांच नई व पुरानी श्रेष्ठ रचनाओं के शुरूआती पैराग्राफ को शामिल कर प्रकाशित किया जाता है।

Click on image (Visit Blog)

ऐसे हुई Halchal with 5 Links की शुरूवात

इस ब्लॉग की संस्थापक श्रीमती यशोदा अग्रवाल है। जोकि पिछले कुछ वर्षों से नई-पुरानी हलचल मे चर्चाकार थी। लेकिन कैंसर से पीड़ित होने के कारण यशोदा जी नियमित चर्चा नही कर पा रही थी। जो लगभग छूट ही गया था। 
वहीं जब यशोदा जी स्वस्थ हुई लेकिन कैंसर की वजह से अपनी वाणी खो बैठी तो उन्होने देखा कि उन्हे वहां से हटाया जा चुका है। उन्होने फिर भी हार नही मानी। उनके पढ़ने का शौक और जूनून बरकरार था, जिसके चलते उन्होने पाँच लिंकों का आनन्द की शुरुआत अकेले ही कर डाली। प्रारम्भ में उन्होने स्वयं ही सप्ताह भऱ में पाँच लिंक चुन कर प्रस्तुत करती रही। कुछ समय बाद श्रीमती विभा रानी श्रीवास्तव उनके इस ब्लॉग से जुड़ी। जो पूर्ण पारिवारिक महिला है और अपने कर्तव्यों का दृढ़ता पूर्वक निभा रही हैं। इसके साथ ही सोच का सृजन ब्लॉग भी लिखती है।
इस तरह बढ़ते हुए कारवां में श्रीमती यशोदा और श्रीमती विभा ने श्री कुलदीप ठाकुर से जुड़ने के लिए अनुरोध किया और जिसे उन्होने सहर्ष स्वीकार कर लिया। जो वर्तमान में इस ब्लॉग के एडमिन भी है। श्री कुलदीप 100 प्रतिशत दृष्टिहीन हैं महिला व बाल कल्याण विभाग में कार्यरत है। दो ब्लॉग और एक गूगल ग्रुप के संस्थापक है। स्क्रीन रीडर के माध्यम से कम्प्यूटर पर सारा काम स्वयं करने में सक्षम है एवं मन का मंथन ब्लॉग का भी संचालन कर रहे है।
श्रीमती यशोदा ने हमे बताया कि सर्वस्व श्री दिग्विजय अग्रवाल जो कि पेशे से कर सलाहकार है उन्होने मेरी मेहनत को सफलता की ओर ले जाने में भरपूर सहयोग दिया। जिसे इस ब्लॉग के सभी चर्चाकार नही भूल सकते है। इस तरह से हलचल विद 5 लिंक्स का कारवां बढ़ता चला गया और लोग जुड़ते चले गये। उन्होने कहा कि मै एक अच्छी पाठक बनना चाहती हूं।
इस ब्लॉग के अन्य चर्चाकारों में श्री विरम सिंह भी है। जो एक विद्यार्थी हैं और राज विवेचना ब्लॉग लिखते है। श्री संजय भास्कर भी इस सामूहिक ब्लॉग के एक अहम कड़ी है जो वर्तमान में बीमा विभाग में कार्यरत है और शब्दों की मुस्कुराहट ब्लॉग भी लिखते है।
इस ब्लॉग के सदस्यों की मेहनत और लगन के कारण हलचल विद पांच लिंक्स वर्तमान में बहुत लोकप्रिय है। इसकी अलेक्सा के अनुसार इसकी ग्लोबल रैंक 393,518 और भारतीय रैंक 48,374 है।

No comments:
Write टिप्पणियाँ