27 November, 2016

आज के जमाने की अच्छाइयां...! (ब्लॉग - आपकी सहेली)


अच्छाइयाँ और वो भी आज के जमाने की… हो ही नहीं सकता! आज तो सभी ओर अराजकता फैली हुई है। किसी को किसी से मतलब नहीं है। हरेक बंदा अपने-आप में मग्न है। हर रिश्ता जैसे स्वार्थ से ही बंधा हुआ है! चाहे वह भाई-बहन का रिश्ता हो या पति-पत्नी का, बाप-बेटे का हो या दोस्ती का। हर रिश्ते की नींव में ऐसा प्रतीत होता है कि सिर्फ जरुरत ही सबसे अहं चीज हो गई है। फ़िर भी मैं आज बात करना चाह रही हूं, आज के जमाने के अच्छाइयों की...!! हम वो ही देखते और सुनते है, जो हमें दिखाया और सुनाया जाता है या जो हम देखना और सुनना चाहते है। हमारा मीड़िया ज्यादातर नकारात्मक ख़बरें ही हमें दिखाता और सुनाता है। लेकिन जैसे कि मैं पहले भी बता चुकी हूं, "आपकी सहेली" की हमेशा यहीं कोशिश रहती है कि समाज में सकारात्मकता फैले। अच्छी घटनाओं से किसी को प्रेरणा मिलें। यदि ऐसी घटनाओं से सिर्फ़ किसी एक व्यक्ति को भी प्रेरणा मिलती है, तो ‘’आपकी सहेली’’ अपने उद्देश में सफ़ल हो जाएगी।

नाबालिग रेप पीड़िता के बच्चे को गोद लेने आगे आए दर्जन भर दंपती

बरेली की रहने वाली 14 साल की रेप पीड़िता को कोर्ट ने अबॉर्शन की अनुमती नहीं दी थी। जब लोगों को पता चला कि रेप पीड़िता के आर्थिक हालात ठीक नहीं है और वो खुद अभी एक बच्ची ही है, ऐसे में उस नाजायज बच्चे का तिरस्कार करने की बजाय, हिंदू-मुस्लिम, अमीर-गरीब, करीब एक दर्जन लोग बच्चे को गोद लेने आगे आए!
आज भी जब समाज में रेप पीड़िता को ही पुर्णत: दोषी माना जाता है, उसे तिरस्कार भरी नजरों से देखा जाता है, आज भी जब इंसान की ख़्वाहिश यहीं रहती है कि उसके बच्चे में उसका अपना अंश या खून मौजूद हो, तब इतने सारे लोगों का बच्चे को गोद लेने के लिए आगे आना किस बात का सबूत है? यहीं न, कि आज इंसान दूसरे के दु:ख-दर्द को समझ रहा है!! आज भी अच्छाई जिंदा है!

पोस्ट अभी बाकी है आदरणीय पाठक! 

आगे की पोस्ट में, आप पढ़ेगे कैसे हो रही है नोटबंदी के दौरान हो रहीं अच्छाइयां | कोच्चि का चर्च बांट रहा है छोटे मूल्य के नोट | नेकी की दीवार

<<< पूरा लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें >>>



ज्योति देहलीवाल जी एक गृहणी है और महाराष्ट्र में निवारसरत है। आप 2014 से ब्लॉग लिख रही है। उनके ब्लॉग पर विभिन्न विषयों से संबधित रोचक जानकारियां और सामाजिक व घरेलू टिप्स आदि ढ़ेरो जानकारीवर्द्धक लेखो की काफी लम्बी श्रृखला है। ज्योति जी से ई-मेल jyotidehliwal708@gmail.com पर स्म्पर्क किया जा सकता है और उन्हे Facebook पर फालो कर सकते है।


यदि आप भी अपनी ब्लॉग पोस्ट को अधिक से अधिक पाठकों तक पहुंचाना चाहते है। तो अपने ब्लॉग की नई पोस्ट की जानकारी या सूचना हमें दें। अपनी ब्लॉग की पोस्ट शेयर करने के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट का यूआरएल और अपने बारे में संक्षिप्त जानकारी एवं फोटो सहित हमें - iblogger.in@gmail.com पर ई-मेल करें।

No comments:
Write टिप्पणियाँ


Blog this Week

loading...