23 January, 2017

आपकी सहेली | राजस्थानी समाज के शादी-ब्याह में लिए जानेवाले झाले-वारणे : भाग 1

'आपकी सहेली' ब्लॉग की संचालिका ज्योति देहलीवाल जी हर बार पाठकों के लिए एक नई और रोचक जानकारी उपलब्ध कराती है। इसी कड़ी में उन्होने इस बार एक राजस्थानी प्रथा को पाठको से रूबरू करा रही है।



राजस्थानी समाज के शादी-ब्याह में झाले-वारणे लेने की प्रथा है। लेकिन लेडिज संगीत के चलते झाले-वारणे सिर्फ़ रस्म-अदायगी के तौर पर होने लगे है। वारणे तो फ़िर भी लिए जाते है लेकिन आजकल की पीढ़ी को झाले न आने के कारण झाले सिर्फ़ शगुन के तौर पर होने लगे है। मुझे अच्छे से याद है, आज से 20-25 साल पहले झाले के दौराण जो मजा आती थी, वो मजा शादी के दूसरे रस्मों में नहीं आती थी। क्योंकि झाले की रस्म एक स्पर्धात्मक रूप में होती है। दुल्हा/दुल्हन को एक कुर्सी पर बैठाकर उनके दोनों ओर सभी युवतियां एवं महिलाएं दो गुट बनाकर खडी हो जाती है। एक के बाद एक झाले बोले जाते है। कोई भी गुट हार मानने को तैयार नहीं होता! एक तरह का सस्पेंस पैदा होता था कि कौनसा गुट जितेगा...! सही मायने में यह एक बहुत ही मनोरंजक रस्म होती थी। लेकिन आजकल की पीढ़ी को झाले न आने के कारण....!! यदि आप अपने यहां की शादी में एक मनोरंजक रस्म रखना चाहते है... तो रिश्तेदारी और परिचित की सभी महिलाओंं और युवतियोंं को ये झाले याद करने बोलिए...और लीजिए, एक पुरानी लेकिन दिलचस्प रस्म का मजा! तो...पेश है झाले...!

कोई भी एक गुट एक झाला बोलेगा उसके तुरंत बाद दूसरा गुट दुसरा झाला बोलेगा। यह झाले क्रम वार ही बोलने है ऐसा नहीं है। याद रखने में आसानी हो इसलिए इन्हें एक शब्द से शुरू होनेवाले या एकसमान लगनेवाले झाले क्रमवार लिखे गए है।

1) सिमरत सिमरु शारदा जिवराज भवरजी गणपत लागु पाय।
‘….’ क ब्याव म जी ओ राज भवरजी, झाला की करुं शुरवात।।
         [‘….’ में दुल्हा या दुल्हन का नाम लेना होता है]

2) सगळो सामान तो लायो रोकडों जी ओ राज भवरजी कुछ न लायो उधार।
बिनायक जी स विनति जी ओ राज भवरजी पेला आप पधार॥
             [ सगळो- सब, रोकडों- नगद, पेला-पहले]
3) उंचो सिंहासन आपको जी ओ राज भवरजी रेशम गादी बिछाय।
बिंदायक जी स बिनति जी ओ राज भवरजी रिद्धि-सिद्धि साथ म लाय॥


<<< पूरी रचना पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें >>>



ज्योति देहलीवाल जी एक गृहणी है और महाराष्ट्र में निवारसरत है। आप 2014 से ब्लॉग लिख रही है। उनके ब्लॉग पर विभिन्न विषयों से संबधित रोचक जानकारियां और सामाजिक व घरेलू टिप्स आदि ढ़ेरो जानकारीवर्द्धक लेखो की काफी लम्बी श्रृखला है। ज्योति जी से ई-मेल jyotidehliwal708@gmail.com पर स्म्पर्क किया जा सकता है और उन्हे Facebook पर फालो कर सकते है।


यदि आप भी अपनी ब्लॉग पोस्ट को अधिक से अधिक पाठकों तक पहुंचाना चाहते है। तो अपने ब्लॉग की नई पोस्ट की जानकारी या सूचना हमें दें। अपनी ब्लॉग की पोस्ट शेयर करने के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट का यूआरएल और अपने बारे में संक्षिप्त जानकारी एवं फोटो सहित हमें - iblogger.in@gmail.com पर ई-मेल करें।

No comments:
Write टिप्पणियाँ


Blog this Week

loading...